नयी खबर ?

वित्तीय आयुक्त का संदेश

Chairman-Photo

आईआरएफसी, अपनी शैली के वित्तीय संस्थानों के बीच एक नेता।

एक सूचीबद्ध कंपनी बनकर और बाजार से इक्विटी पूंजी जुटाने में सफल होने के कारण आईआरएफसी अपने इतिहास में एक और मील का पत्थर रिकॉर्ड करने में क़ामयाब हुआ |
पिछले 30 वर्षों में आईआरएफसी को अपनी शैली के वित्तीय संस्थानों में अग्रणी माना गया है।भारतीय रेल के समर्पित उधार लेने वाले हाथ के रूप में, आईआरएफसी ने वित्तीय पट्टे तंत्र के माध्यम से भारतीय रेलवे के पूंजी निवेश कार्यक्रम का एक महत्वपूर्ण घटक लगातार वित्तपोषित किया है। आईआरएफसी द्वारा जुटाए गए धन का उपयोग रोलिंग स्टॉक परिसंपत्तियों को प्राप्त करने और बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए विशेष रूप से किया जाता है।

यहां पढ़ें

आईआरएफसी समाचार

DSC_0579

स्मार्ट रेलवे सम्मेलन में आईआरएफसी
फिक्की ने 6 जून, 2017 को एक स्मार्ट रेलवे सम्मेलन का आयोजन किया। सम्मेलन का फोकस क्षेत्र हाई स्पीड रेलवे था।



6 June 2017यहां पढ़ें…

14102014-Copy-1

आईआरएफसी ने 2016-17 के वित्तीय वर्ष के लिए 340 करोड़ रुपये का उच्चतम अंतरिम लाभांश घोषित किया है
भारतीय रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन (आईआरएफसी) ने 2016-17 के वित्तीय वर्ष में 340 करोड़ रुपये का अंतरिम लाभांश घोषित किया है। रेल मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने आईआरएफसी के एमडी एसके पट्टनिक से लाभांश की जांच स्वीकार की।

28 March 2017यहां पढ़ें..

संचालन

home-page-picts_368X207_03
home-page-picts_368X207_02
home-page-picts_368X207_01